कोविड-१९ टीकाकरण व को-विन पोर्टल में यूएनडीपी के वीसीसीएम की भूमिका महत्वपूर्ण

By: Izhar
Jun 11, 2021
18

गाजीपुर : कोविड-१९ के मौजूदा हालात से लड़ने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ सहयोगी संस्थाएं भी लगातार संक्रमण खत्म करने के लिए कार्य कर रही हैं। दूसरी ओर सरकार टीकाकरण पर भी ज़ोर दे रही है । जिले १८ वर्ष से ऊपर के लोगों के टीकाकरण के लिए ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। भारत सरकार के को-विन पोर्टल का तकनीकी सहयोग यूनाइटेड नेशनल डेवलपमेंट प्रोग्राम (यूएनडीपी) के द्वारा किया जा रहा है। इसके जिला प्रतिनिधि के रूप में वैक्सीन कोल्ड चैन मैनेजर (वीसीसीएम) प्रवीण उपाध्याय साल २०१५ से गाजीपुर में कार्यरत हैं। मौजूदा हालात में को-विन पोर्टल में लगातार हो रहे बदलाव के साथ विभाग के कर्मियों को अपडेट करने का कार्य करते रहते हैं।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ उमेश कुमार ने बताया - उनका पूरा परिवार गाजीपुर जनपद के रेवतीपुर ब्लाक के एक गांव में रहता है। लेकिन मौजूदा हालात में अप्रैल माह से शुरू हुए कोविड-१९  महामारी को देखते हुए अपनों से भी दूरी बनाकर योद्धा के रूप में लगातार कार्य कर रहे हैं। उन्होंने बताया – ई-विन पोर्टल के आधार पर ही कोविड-१९  टीकाकरण को शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिए को-विन पोर्टल को लगातार अपडेट करने का कार्य भी करते रहते हैं और विभाग के वैक्सीनेटर और वेरीफायर को समय-समय पर हुए बदलाव से अपडेट भी करते हैं। ताकि टीकाकरण के कार्य में किसी भी तरह की रुकावट ना आए।

प्रवीण उपाध्याय का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग के साथ वह साल २०१५ से कार्य कर रहे हैं। तब से नियमित टीकाकरण का भी कार्य चलता रहा है। उसका भी अपडेट इसी पोर्टल के माध्यम से हुआ करता था। लेकिन कोविड-१९ आने के बाद सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर के बाद ६० प्लस और मौजूदा समय में १९ प्लस के लोगों का वैक्सीनेशन का कार्य चल रहा है। जिसको लेकर समय-समय पर पोर्टल पर अपडेट किया जाता रहता है और उस अपडेट को स्थानीय स्वास्थ्य कर्मियों को देना उनकी जिम्मेदारी है।


Izhar

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?