जौनपुर वारिष्ट कम्युनिस्ट नेता की ९७ वर्ष की आयु लम्बी बीमारी के बाद हुआ निधन

By: Khabre Aaj Bhi
Jun 09, 2021
223


By:मोहम्मद हारून

जौनपुर वारिष्ट कम्युनिस्ट नेता और मजदूरों के मसिहा जनाब मो, हनिफ उर्फ हन्नू नेता की ९७ वर्ष की आयु लम्बी बीमारी के बाद उनके आवास मीरमस्त में हुआ निधन स्वर्गीय हाजी अफजाल अहमद विधायक के मामा थे। ९७  वर्ष की आयु में आज सुबह सात बजे अपने जीवन की अंतिम सांस कामरेड मो. हनीफ ने लिया उनका निधन लंबी बीमारी के कारण हुआ।  उनके आवास पर  संवेदना प्रकट करने वालो का तांता लगा रहा ।

कामरेड मो. हनीफ का जीवन बहोत ही संघरशील निडर एवँ बेबाक वक्ता के रूप में रहा सदैव गरीबों,मजदूरों,कर्मचारियों की आवाज़ को लेकर विभागों एवँ सड़को पर धरना प्रदर्शन करते हुए उनको देखा जाता रहा उनकी आवाज़ की कड़क व बलन्दी से अधिकारियों एवँ सामंतवादी व्यवस्थाओं की धज्जियाँ उड़ जाती रहीं जब भी कामरेड ने किसी भी धरने का आयोजन किया या किसी भी प्रदर्शन में शामिल हुए तो अपनी मांगों को मनवाने के बाद ही वो उठे, ये उनके जीवन के अदम साहस का एक परिचायक था।वो एक मध्य वर्गीय परिवार में जन्म लेने के बाद संघर्ष का रास्ता चुना और लोगो को हक़ दिलवाने के लिए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की शरण मे चले गए वो भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के मजदूर यूनियन के प्रदेश मंत्री एवं उत्तर प्रदेश कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष भी रहें और वर्तमान समय मे उत्तर प्रदेश कर्मचारी महासंघ के संरक्षक हैं।

इसके अलावा वार्ड के सभासद रहे एवँ सदर विधानसभा से कम्युनिस्ट पार्टी के बैनर तले विधायकी का भी चुनाव लड़ चुके हैं परंतु उसमे सफलता अर्जित नही हो पाई थी उनका निधन भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की अपूर्णक्षति है और साथ ही साथ गरीब मजदूर एवं कर्मचारियों का अब मसीहा नही रहा। कामरेड मो. हनीफ के सायं काल आज बजे उनको खास हौद की कब्रिस्तान पर सुपुर्दे खाक किया गया


Khabre Aaj Bhi

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?