नए और पुराने गर्म कपड़ों का वितरण शहर गाजीपुर के 50 परिवारों में

By: Khabre Aaj Bhi
Jan 17, 2021
176


By.जावेद बिन अली

 गाजीपुर : मानव सेवा को अपना मुख्य उद्देश्य मानने वाली संस्था ऑल इंडिया पयामे इन्सानियत फोरम ग़ाज़ीपुर यूनिट के साथियों द्वारा पूर्व की भांति आज फिर दिनांक १७ जनवरी २०२१ की सर्द और ठिठुरती सुबह में ग़ाज़ीपुर शहर के आदर्श गांव स्थित कांशीराम आवास कालोनी में ५० से अधिक परिवारों में नए और पुराने गर्म और नार्मल कपड़े वितरित किये गये।

सर्वप्रथम नजमुस्साकिब अब्बासी नदवी ने उनके बीच इंसानियत और मानवता की बात की और कहा कि किसी की मदद से किसी मोहताज को खुश कर देना सवाब(पुण्य) काम है,किसी का दुःख-दर्द बांटना इंसानों का काम है। अतःआप से गुज़ारिश है कि आप भी इंसानियत के इस काफिले में शामिल होकर मानवता की सेवा कीजिए और इस कारवां को आगे बढ़ाइए।

उद्धबोधन के उपरांत फ़ोरम के साथियों द्वारा ग़रीब महिला-पुरूष और बच्चों में स्वेटर,शाल,रूमाल,सदरी,टोपी-मोज़ा,जैकेट,गर्म कोट,जींस-शर्ट,कुर्ता-पजामा,शलवार-क़मीज़ सूट आदि वितरित किया गया।बढ़े-बूढ़े और बच्चे कपड़े पाकर बहुत खुश हुए और आगे भी फ़ोरम के लोगों से आने की गुज़ारिश किया ।ज्ञात हो कि फोरम अपने स्थापना दिवस से ही निरन्तर देशवासियों में आपसी प्रेम,सद्भावना और सौहार्द को सुदृढ़ करते हुए देशवासियों को राष्ट्रसेवा में सहयोग प्रदान करने के लिए प्रेरित करता आ रहा है।और समाज में एक दूसरे को सहयोग प्रदान करके उनके दुःख-दर्द बांटने की कोशिश कर रहा है। इस अवसर पर नजमुस्साकिब अब्बासी,आबिद हुसैन,समीर अहमद,शुजाउद्दीन अंसारी,अरमान अली,मुहम्मद सैफ,शमशाद अंसारी,कुतुबुद्दीन सिद्दीकी,राजा अली आदि और गाँव के गणमान्य लोग उपस्थित थेl


Khabre Aaj Bhi

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?