मछली शहर ग्राम न्यायालय का हुआ शुभारंभ हिमांशु वर्मा सिविल जज जूनियर डिवीजन ने किया कार्यभार ग्रहण

By: afsar ali
Oct 14, 2020
653


जौनपुर: मछली शहर अंतर्गत आने वाले निकामुद्दीनपुर ग्राम न्यायालय का हुआ शुभारंभ ग्राम न्यायालय अधिनियम २००८ के गठन के पश्चात जनपद जौनपुर के तीन तहसीलों में ग्राम न्यायालय की स्थापना की गई है मछली शहर शाहगंज, और केराकत स्थानीय कोतवाली से डेढ़ किलोमीटर दूर नेशनल हाइवे से ५०० मीटर उत्तर दिशा में ग्राम पंचायत पहाड़पुर स्थित निकामुद्दीनपुर गांव में पंचायत भवन में न्यायालय की स्थापना कर दी गयी है।बुद्धवार को सिविल जज जूनियर डिवीजन हिमांशु वर्मा द्वारा प्रशिक्षण के बाद कार्यभार ग्रहण किया गया। २००८ में अधिनियम बनने के बाद न्यायालयों के गठन को लेकर माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा राज्य की सरकारों और उच्च न्यायालयों को ग्राम न्यायालय के स्थापना को लेकर नोटिस जारी करते हुए कहा था कि उक्त न्यायालयो के गठन हो जाने से आम जनता को इससे बड़ी राहत मिलेगी।


मछलीशहर ग्राम न्यायालय के कनिष्ठ लिपिक अल्केश सरोज ने बताया कि इस न्यायालय में अभी तक मछलीशहर, मुंगराबादशाहपुर,मीरगंज, पंवारा चार थानों के क्षेत्राधिकार से सम्बंधित मामलों की सुनवाई होगी।ऐसे मामले देखे जायेंगे जिसमे २ वर्ष तक सजा के प्रावधान के मामलों की १२ सौ पत्रावलियों का स्थानांन्तरण जनपद न्यायालय से किया जा रहा है । उक्त न्यायालय हेतु भवन के सबन्ध में प्रधान विजय यादव ने बताया कि तहसील स्तर पर जब भवन की तलाश की जा रही थी तो मेरे प्रयास से पंचायत भवन निकामुद्दीनपुर में उक्त न्यायालय को प्रस्तावित करने का सुझाव दिया गया था और आज वह प्रयास सफल हो गया।

इस न्यायालय के यहाँ आ जाने से स्थानीय निवासियों को रोजगार की संभावना बढ़ गयी है और क्षेत्र के विकास के साथ साथ गांव का भी विकास सुदृढ हो जाएगा। न्यायिक कार्य के पहले दिन पर न्यायालय के समस्त स्टाफ मौजूद रहे जिसमें पेशकार आनन्द प्रकाश सिंह,कनिष्ठ लिपिक अल्केश सरोज,स्टेनो संदीप पटेल, अर्दली इन्द्रबहादुर उपाध्याय तथा ऑफिस कर्मचारी जयहिंद यादव उपस्थित रहे।


afsar ali

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?