नाली का निर्माण कार्य मे ठेकेदार से लेकर अधिशासी अधिकारी व चेयरमैन व भ्रष्टाचार में लिप्त

By: afsar ali
Oct 11, 2020
86

जौनपुर : मछली शहर नगर पंचायत कोतवाली वार्ड के मोती नगर मोहल्ले में मानक के अनुसार नाली का निर्माण नही कराया जा रहा है, इसमे बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हो रहा है, ठेकेदार से लेकर अधिशासी अधिकारी व चेयरमैन तक है इस  भ्रष्टाचार में लिप्त  है।

पुरानी नाली को तोड़कर चौड़ीकरण का काम चल रहा है जिस में बालू की जगह पर मिट्टी वाली रेत से नाली का  कार्य हो रहा है ।  पुरानी नाली को तोड़ने के बाद जो ईट निकल रहा है उसी ईट से नए नाले का निर्माण हो रहा है  मिट्टी और काई लगे हुए ईट में सीमेंट नहीं पकड़ता है और उन्हीं ईटों से नए नाली का निर्माण हो रहा है ।

दूसरी तरफ जो पुरानी नाली है उसी पुरानी नाली की दीवार को प्लास्टर करके ढकने का काम  धड़ल्ले से चल रहा है। मोहल्ले वासियों के विरोध करने के बाद भी ठेकेदार द्वारा जोर शोर से कराया जा रहा है। उनके इन भ्र्ष्टाचारी कार्यो में बड़े-बड़े आकाओं का हाथ है, जिसे बेखौफ होकर ठेकेदार डंके की चोट भ्रष्टाचार करवा रहा है।

 पत्रकारों द्वारा  करीब २ घंटे तक अधिशासी अधिकारी मछली शहर को फोन पर संपर्क साधने की लगातार नाकाम कोशिश की गयीं लेकिन घण्टी  बजती रही लेकिन साहब ने फोन नहीं उठाया क्योंकि ठेकेदार प्रतिनिधि लगातार अपने आकाओं से फोन पर संपर्क साधे हुए थे।और उन्हें पूरी सूचना उपलब्ध करा रहे थे।

 जिसके कारण इन लोगों ने फोन उठाना उचित नहीं समझा जब मीडिया कर्मी द्वारा चेयरमैन पति महमूद आलम मछली शहर से संपर्क करने की कोशिश की तो दो बार फोन करने के बाद उन्होंने भी फोन नहीं उठाया लेकिन आधे घंटे के बाद उन्होंने वापस फोन किया तब उनसे इस पूरे मामले को लेकर  अवगत कराया गया तो उन्होंने तो पहले मीडिया को भ्रमित किया कि यह रिपेयर का काम चल रहा है जबकि यह कार्य  नाली चौड़ीकरण का दिखाई दे रहा है।

 पहले तो मीडिया कर्मी द्वारा जब यह बताया गया कि इसमें मानक के विपरीत काम किया जा रहा है  तो उन्होंने पहले मीडियाकर्मियों  को भ्रमित किया, जब इन्हें समझ में आया कि मामला बनने वाला नहीं है तो उन्होंने फोन पर बताया कि अभी हम पता करते हैं नए नाली का निर्माण हो रहा है या पुरानी नाली का रिपेयर का काम चल रहा है, मामले को बढ़ता देख चेयरमैन पति महमूद आलम अंसारी ने अपने विभागीय कर्मचारी को मौके पर जाकर पूरे मामले को देखकर  निर्माण कार्य में गलत सामग्री का  हो रहे प्रयोग  तुरंत बंद करवाने को कहा।  ये भी कहा कि पुरानी ईट और मिट्टी वाली बालू से जितनी भी नाली बनी है उस नाली को तुड़वा कर नए सिरे से कार्य कराया जाएगा।


मीडिया कर्मी मौके पर पहुंचकर यह जानने की कोशिश की क्या नाली का निर्माण मानक के अनुसार हो रहा है या नहीं और जब इसकी जांच की तो तो जांच में पाया इस  पुरानी नाली की एक तरफ की दीवार तोड़ कर फिर से नई नाली का निर्माण कार्य किया जा रहा है, जब इस सिलसिले में मैंने अधिशासी अधिकारी मछली शहर को उनके सीयूजी नंबर पर संपर्क करने की कोशिश की 2 घंटे तक कॉल करता रहा लेकिन अधिशासी अधिकारी द्वारा फोन नहीं उठाया गया क्योंकि वहां मौके पर मौजूद ठेकेदार के प्रतिनिधि द्वारा अपने आकाओं को फोन करके इस पूरी घटना की सूचना पहले ही दे चुके थे। थोड़ी देर के  बाद चेयरमैन प्रतिनिधि द्वारा मुझे फोन पर आश्वासन दिया गया है कि मैं अपने एक कर्मचारी को मौके पर भेज रहा हूं जैसे ही कर्मचारी मनोज चौरसिया मौके पर पहुँचा वैसे ही ठेकेदार के जितने भी आदमी वहां काम कर रहे थे एक-एक करके सब मौके से फरार हो गए, मनोज चौरसिया से हमने बात करने की कोशिश की तो उन्होंने मीडिया कर्मी के बातों का जवाब दिए बगैर मौके से चले गए अभी फिलहाल नाली निर्माण का कार्य रुका हुआ है आगे देखते हैं कि ठेकेदार ज्ञानचंद यादव के खिलाफ क्या कार्रवाई होती है।


 अब जांच का विषय यह है कि पूरे मछली शहर में ऐसे दबंग व भ्र्ष्टाचारी ठेकेदारों द्वारा जितने भी कार्य कराए जा रहे हैं सारे कार्य में इसी तरह की धांधली/अनियमित्ता और भ्रष्टाचार किया जा रहा है और वह भी अधिशासी अधिकारी मछली शहर वह मछली शहर चेयरमैन पति के नाक के सामने ही यह कार्य धड़ल्ले से चल रहा है ऐसे निर्माण कार्य 1 हफ्ते के अंदर ही वह सड़क हो या नाली हो सब के सब टूट जाते हैं।

 ऐसे भ्र्ष्टा ठेकेदारों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए

मौके पर पहुंचे पूर्व वाइस चेयरमैन मछली शहर इश्तियाक खान से जब मीडिया कर्मियों ने  बातचीत की तो उन्होंने बताया इसकी शिकायत में कई बार कर चुका हूं लेकिन पूरे मछली शहर में ऐसे ठेकेदारो द्वारा इसी तरीके से सभी जगह काम कराये जा रहे हैं। हम सरकार से यह मांग करते है कि ऐसे दबंग और भ्रष्ट ठेकेदार और नगर पंचायत  के नीचे से ऊपर तक कर्मचारी जो कान में तेल डालकर बैठे हैं उनके भी खिलाफ जांच होनी चाहिए। तथा कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए।

घटनास्थल पर पहुंचे कोतवाली वार्ड के पत्नी सभासद आसिफ मंसूरी उन्होंने भी मीडिया कर्मियों से बातचीत मे बताया कि कई बार इस सिलसिले में ठेकेदार से हमने शिकायत की लेकिन ठेकेदार धड़ल्ले के साथ मानकों की अनदेखी करते हुए पुराने ईटों और मिट्टी वाली बालू से नाली का निर्माण करा रहा है ,लेकिन अधिशासी अधिकारी से लेकर चेयरमैन तक सब के नाक के नीचे यह कार्य हो रहा है और इसी तरह का कार्य पूरे मछली शहर नगर पंचायत में चल रहा है आइए सुनते हैं पूर्व वाइस चेयरमैन इस्तियाक खान कोतवाली वार्ड के पत्नी सभासद आसिफ मंसूरी क्या कहते है ।


afsar ali

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?