उत्तर प्रदेश के किसी भी जनपद में मस्जिद में आज़ान पर या मंदिर में घंटा बजाने पर रोक लगाना भी अपराध माना जाएगा : असलम राईनी

By: Khabre Aaj Bhi
Apr 26, 2020
387

रिपोर्ट : हैदर अली/ मोजम्मिल खान

गाजीपुर : गाजीपुर के कई ग्रामीणों ने  जनपद श्रावस्ती के भिनगा विधायक को फोन व पत्र के माध्यम से अवगत कराया कि जनपद गाजीपुर के जिलाधिकारी द्वारा मस्जिद में अजान देने पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है, तत्काल गाजीपुर जनपद वासियों की पीड़ा को गंभीरता से लेते हुए भिनगा विधायक मोहम्मद असलम राईनी ने माननीय मुख्यमंत्री व अपर मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर तथा फोन के माध्यम से इस प्रकरण को अवगत कराया और तत्काल अजान पर लगी रोक को हटाने का निवेदन करके दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

विधायक असलम राईनी ने कहा कि मुझे विश्वास नहीं हो रहा की गाजीपुर के जिलाधिकारी श्री ओम प्रकाश आर्य जी को मैं अच्छी तरीके से जानता हूं व जनपद श्रावस्ती में जिलाधिकारी रह चुके हैं,हो सकता हो गाजीपुर के इनके अधिनस्थ उप जिलाधिकारी व दूसरे अधिकारियों ने  या प्रतिबंध लगाया हो और जो अधिकारी गौतम बुद्ध और गाजी सरकार की धरती पर रह चुका हो वह इतना क्रूर और निर्दयी कैसे हो सकता है ।

विधायक ने कहा कि उत्तर प्रदेश के चंद लोग माननीय मुख्यमंत्री जी की छवि को हमेशा धूमिल करने में लगे रहते हैं ऐसी स्थिति में मेरा मुख्यमंत्री जी से आग्रह है कि ऐसे लोगों को चिन्हित कर कार्रवाई करें जिससे कि उत्तर प्रदेश सरकार की छवि अच्छी बनी रहे।


Khabre Aaj Bhi

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?