लॉडस्पीकर से अंजान ना होने के सम्बंध में बसपा नेता परवेज़ खान ने डीएम को व्हट्सएप पर लिखित दिये थे पत्रक

By: Muzammil Khan
Apr 24, 2020
1505


गाजीपुर : कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पुरे देश में 3 मई तक लॉक डाउन है. जिसके चलते देश भर की मस्जिदें बंद हैं. चूँकि 25 अप्रैल से रमजान शुरू हो रहा है और मुस्लिम समुदाय का मानना है कि इस समय मस्जिदों से आजान होने चाहिए. इसके कई मायने हैं.लेकिन गाजीपुर जिले में बिना किसी शासनादेश के गाजीपुर प्रशासन द्वारा रमजा़न में मस्जिदों से अजा़न पर रोक लगाया गया।जो कि पूरे देश में लोग अजा़न से ही रोजा इफ्तार व सहरी  करते हैं।आप को बताते चलें कि कल सेवराई एसडीएम ने दिलदारनगर क्षेत्र के उसिया, रकसहा,बहुअरा,आदि गांवों में लोगों से मस्जिदों से अजा़न ना देने कि हिदायत दी थी। जिसकी सूचना पर बसपा यूवा नेता परवेज़ खान ने लिखित आदेश होने की जानकारी मांगी।जिस पर सेवराई एसडीएम ने डीएम ओम प्रकाश आर्य द्वारा मौखिक आदेश की बात कही। इसके बाद बसपा नेता परवेज़ खान ने डीएम साहब को लिखित पत्र उनके व्हाट्सएप पर भेजा और सासंद अफजाल अंसारी भी फोन पर अजा़न ना होने की जानकारी दी।

गाजीपुर जिलाधिकारी ओम प्रकाश आर्य द्वारा इस बाबत मीटिंग कि गई. उन्होंने बताया कि “मस्जिद में सुबह और शाम आजान हो सकती है, कोई एक व्यक्ति को मस्जिद में जाने की अनुमति होगी और हॉटस्पॉट एरिया में इसकी अनुमति नहीं होगी.”

बैठक में लिए गये इस निर्णय से मुस्लिम समाज के चेहरे पर रौनक साफ़ नज़र आई. गौरतलब है कि पिछले दिनों सोशल डिस्टेंस को देखते हुए, मस्जिद में नमाज पढने और आने जाने की अनुमति नहीं थी, ऐसे में रमजान को देखते हुए ऐसी खबर आने से मुस्लिम समाज में उत्साह है.


Muzammil Khan

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?