बरेली पुलिस जोन के मुखिया एडीजी अविनाश चन्द्र की सुरक्षा में हुई बड़ी चूक

By: Khabre Aaj Bhi
Mar 14, 2020
284

पुलिस के सिर चढ़ा अपराधी दीपक शर्मा खुलेआम कानून की उड़ा रहा है धज्जियां


खबर चलने से तिलमिलाये पुलिस का अपराधी दीपक शर्मा ने मोबाइल नंबर से पता ट्रेस कर संवाददाता योगेन्द्रे सिहं को देख लेने की धमकी लिखत रूप से दी है

 ( मीडिया प्रभारी योगेन्द्रे सिहं बरेली )

उत्तर प्रदेश : बरेली एडीजी जोन के पुलिस कार्यलय में एडीजी पुलिस अविनाश चन्द्र ने एक होली मिलन समाहरोह का कार्यक्रम अपने बरेली जोन पुलिस ऑफिस में रखा जिस में बरेली जनपद के पत्रकारों को भी बुलाया गया इसी दौरान एक दर्जनों मुकद्दमों का अभियुक्त पुलिस का फरार अपराधी तथा कथित पत्रकार दीपक शर्मा समारोहों में जाधमका और एडीजी पुलिस अविनाश चन्द्र के साथ होली मनाते हुए फोटो सेल्फी लेते हुए जनपद की पुलिस को खुलेआम चुनौती देते हुए पुलिस जोन मुखिया के साथ फोटो खिचबार बायरल करा रहा है आपको बता दें की उक्त दीपक शर्मा को कई थानों की पुलिस गिरफ्तारी के लिए तलाश कर रही है और पुलिस अपराधी अभियुक्त दीपक शर्मा है कि बरेली जोन पुलिस के मुखिया के साथ होली मनाते हुए योगी सरकार का प्रदेश में अपराध पर जीरो टारगेट के लक्ष्य को चुनौती देते हुए बरेली में अपराधी पुलिस अफसरों के साथ सैल्फी ले रहें हैं उक्त शातिर पुलिस अपराधी दीपक शर्मा पर बरेली जनपद के कई थानों में अलग-अलग अधादर्जन से भी अधिक मुकदमे दर्ज है जिन का रिकार्ड यह है 

,

पुलिस अपराधी दीपक शर्मा पर दर्ज मु.अ.स -293/05 धारा 307,थाना देवरनिया बरेली, मु.अ.स -294/05 अबैध असले की धारा 25 थाना देवरनिया बरेली, मु.अ. स.1215/07 धारा 326,323,504 थाना बहेड़ी,मु.अ. स -3619/011धारा420,467,468,471,147,148,452,447,sc/st एक्ट थाना बारादरी बरेली, मु. अ. स. 321/019धारा 384,482,354,323,506,147,थाना प्रेमनगर बरेली, परिवाद स. 1404/10धारा147,452,393 थाना देवरनिया बरेली और उक्त दीपक पर हाल ही में  24 फरवरी 2020 को बरेली के थाना बहेड़ी में दर्ज मुकद्दमा धारा 395,307,323,325,के अन्तर्गत थाना बहेड़ी पुलिस गिरफ्तारी के लिए तलाश रही है लेकिन थाना पुलिस को यह पुलिस का अपराधी अभियुक्त नही मिल रहा है और पुलिस के जोन मुखिया के साथ होली खेलते हुए फोटो खिचबाकर थाना पुलिस को खुलेआम चुनौती दे रहा है।यह ही नही इस शातिर दीपक ने इतने तमाम मुकद्दमे दर्ज होने का रिकार्ड होने के बाद भी पासपोर्ट भी जारी कराकर विदेश यात्रा करली जिस की शिकायत के बाद इस का पासपोर्ट निरस्तीकरण के लिए विभागीय कार्यवाही प्रचलित हैं।


Khabre Aaj Bhi

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?