पुलिसिया ताण्डव और प्रताड़ना के चलते टिक टाॅक बनाने वाले युवक ने दे दी जान

By: Khabre Aaj Bhi
Feb 03, 2020
216

By: हारून खान

जौनपुर: टिक टाॅक बनाने के चक्कर में एक युवक की जान ही चली गयी। उसकी मौत किसी हादसे के कारण नही बल्की पुलिस प्रताड़ना के चलते हुई। परिजनो का आरोप है कि टिक टाॅक बनाने के लिए पुलिस उसे मारपीटा उसके बाद हम लोगो से बीस हजार रूपये वसूली करने का दबाव बनाया जिसके कारण उसने फांसी लगा जान दे दिया। युवक की मौत होने की खबर मिलते ही मोहल्ले वालो में मातमभरा आक्रोश व्याप्त हो गया है उधर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। पुलिस अधिकारियों ने इसकी जांच कराने की बात कह रहे है।

नगर कोतवाली थाना क्षेत्र के मुल्लाटोला मोहल्ले के निवासी असलम का 18 वर्षीय पुत्र राजू अपने पिता के साथ पेंटर का काम करता था आज वह काम पर न जाकर गोमती नदी के किनारे अली घाट पर एक उच्चकोटि का कैमरा लेकर टिक टाॅक बनाने चला गया। वह टिक टाॅक बना रहा था इसी बीच डायल 112 की पुलिस मौके पर पहुंचकर उसकी पिटाई करके उसके घर ले गयी । परिवार वालो को उसे जेल भेजने की धमकी देकर दो हजार रूपये वसूलकर चले गये। लेकिन कुछ देर बाद वही पुलिस वाले वापस लौटकर पिता पर शाम तक 20 हजार रूपये देने का दबाव बनाया पैसा न देने पर उसके बेटे को जेल भेजने का धमकी दिया। अपने बेटे को जेल न जाने से बचाने के लिए मां बैंक से पैसा निकालने चली गयी। इसी बीच राजू कमरा बंद करके पंखे के सहारे फांसी लगाकर मौत को गले लगा लिया। बेटे की मौत की खबर मिलते ही पूरे परिवार में कोहराम मच गया। पिता ने पूरी घटना की जानकारी देते हुए पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग किया है।

पुलिस प्रताड़ना के कारण युवक के मौत की खबर मिलते ही पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही सीओ सिटी भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गये। परिवार वालो के आरोपो के सवाल पर सीओ ने जांच कराने की बात कह रहे है।


Khabre Aaj Bhi

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?