4 हिस्ट्रीशीटर बंगाल और उत्तर प्रदेश के गिरफ्तार

By: Mujammil
Jan 19, 2020
237

गाजीपुर : आज सुबह दिलदारनगर पुलिस को बंगाल के प्रसिद्ध कुछ हिस्ट्रीशीटर को गिरफ्तार करने में कामयाब हुई है।ज्ञात हो कि जनपद गाजीपुर अंतर्गत थाना दिलदारनगर मूलनिवासी ग्राम बहुआरा इश्तियाक खान, जावेद खान ,औरंगजेब खान ,परवेज खान, जुलकरनैन खान, खुर्शीद खान पुत्रगण मुस्तफा खान सरवर खान ,आसिफ खान पुत्रगण जुलकरनैन खान, अखलाख पुत्र मुस्ताक खान ऐसे नाम है जो उत्तर प्रदेश से लेकर पश्चिम बंगाल के हावड़ा डिस्ट्रिक्ट के शिवपुर थाना के हिस्ट्रीशीटर है। इनका अपराध तो ऐसा है आज नहीं कल हावड़ा द्वितीय विद्यासागर ब्रिज जब भी ध्वस्त होगा तो इनका नाम पहले सूची में होगा। क्योंकि पुल के नीचे से कोयला निकालने का कारोबार करने का यह लोग माफिया डान थे।अंग्रेजी दैनिक अखबार स्टेटमेंट के मुख्य पेज पर कवर स्टोरी पर इनकी गिरफ्तारी हो चुकी है। इसके अतिरिक्त पश्चिम बंगाल उत्तर प्रदेश के कई दैनिक समाचारों में इनकी कहानियां छप चुकी है।

30 अक्टूबर 2019 को इनके द्वारा दिलदार नगर क्षेत्र के प्रसिद्ध एसकेवीएम कॉलेज के प्रधानाचार्य आसिफ अली और उनके भाइयों को जान से मारने की नियत से लोहे के रॉड, गड़ासा और भाले से हमला हुआ था! मुकदमा नंबर 186/ 19 धारा 147, 148 ,149 ,307, 323, 324, 325 ,504 आईपीसी मुकदमा दर्ज होने के बाद तमाम मुलजी मान फरार चल रहे थे! लेकिन अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण. क्षेत्राधिकारी जमानिया, प्रभारी निरीक्षक थाना दिलदारनगर की कोशिश से फरार चल रहे अभियुक्त परवेज खान पुत्र मुस्तफा खान निवासी को विशेश्वरगंज पेट्रोल पंप के पास से गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता प्राप्त हुई थी आज सुबह दिलदार नगर रेलवे स्टेशन के पास औरंगजेब खान इश्तियाक खान उर्फ इताज खान पुत्रगण मुस्तफा खान तथा अखलाक उर्फ एकलाख खान पुत्र मुस्ताक खान निवासी बहुआरा को गिरफ्तार करने में पुलिस कामयाब हुई है।इस हिस्ट्रीशीटर के गिरफ्तारी में सत्येंद्र भाई पटेल ,कुंदन यादव ,रविंदर यादव ,राजेंद्र यादव ,नवनीत कुमार, गौरी शंकर सिंह ,महाराज सिंह ,जय हिंद आदि पुलिस कांस्टेबल के सहयोग से अभियुक्त को गिरफ्तारी करने में कामयाबी प्राप्त हुई है ! इन अभियुक्तों का दिलदारनगर से लेकर कोलकाता के कई थानों खासतौर पर हावड़ा के शिवपुर थाना में काफी संख्या में मुकदमे दर्ज हैं ।अभिव्यक्त द्वारा कुछ वर्ष पहले हावड़ा से चोरी की गई ट्रक भी गाजीपुर की पुलिस को पकड़ने में कामयाबी मिल चुकी है।


Mujammil

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?