मंदिर - मस्जिद पर न्यायालय का निर्णय पर शांति एवं कानून व्यवस्था के लिए बैठक संपन

By: Khabre Aaj Bhi
Nov 05, 2019
95


by: संदीप शर्मा

गाज़ीपुर:  गहमर आगामी दिनों में राम मंदिर एवं बाबरी मस्जिद पर उच्चतम न्यायालय से निर्णय आने के परिप्रेक्ष्य  में शांति एवं कानून व्यवस्था को बनाए रखने हेतु स्थानीय थाने पर क्षेत्र के संभ्रांत जनों की एक बैठक सोमवार की देर शाम उप जिलाधिकारी विक्रम सिंह की अध्यक्षता एवं प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार सिंह की अगुवाई में संपन्न हुआ। उक्त बैठक में क्षेत्र के मंदिरों के पुजारी मस्जिदों के इमाम सहित समस्त गांव के ग्राम प्रधान सहित प्रबुद्ध जनों की इस बैठक में उप जिलाधिकारी विक्रम सिंह ने अपील करते हुए कहा कि राम जन्मभूमि/ बाबरी मस्जिद पर माननीय उच्चतम न्यायालय में विचाराधीन वाद में आगामी कुछ दिनों में संभावित निर्णय आने के परिपेक्ष्य में आप से मेरी गुजारिश है कि माननीय उच्चतम न्यायालय के निर्णय का सम्मान करते हुए अपने क्षेत्र में शांति एवं कानून-व्यवस्था सहित अमन चैन बनाए रखने का प्रयास करेंगे एवं उच्चतम न्यायालय का निर्णय किसी के भी पक्ष में आए सभी पक्ष उस निर्णय का सम्मान करेंगे । साथ ही किसी भी प्रकार की अफवाह न फैलाएं है और न फैलाने दें अगर कोई अफवाह फैलाता है तो प्रशासनिक अधिकारियों से उस बात को अवगत कराएंगे। प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार सिंह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि निर्णय आने के बाद अपने मोहल्ले आसपास के क्षेत्र में भाईचारा एवं सौहार्द का माहौल बनाए रखेंगे। उच्चतम न्यायालय के निर्णय से हिंदू मुस्लिम समुदायों में किसी भी समुदाय की भावना आहत हो सकती है इसलिए प्रतिक्रिया देने से बचें ,मोबाइल या सोशल मीडिया पर फैलने वाली कोई भी सूचना जिस पर किसी पक्ष की भावनाआहत हो उसका तत्काल खंडन करें व प्रशासनिक अधिकारियों से अवगत कराएं । किसी की भावना प्रभावित होने वाले पोस्ट फेसबुक व्हाट्सएप, टि्वटर,इंस्टाग्राम आदि सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कोई शेयर करता है तो प्रशासनिक अधिकारियों से अवगत कराये।  राष्ट्रीय एकता अखंडता प्रभावित करने वाले संदेश सोशल मीडिया पर भारतीय दंड संहिता की धारा 153 ए/ 153 बी व सूचना व प्रधौगिकी की धारा 66 डी (ए) दंडनीय अपराध है अतः इससे बचे। उक्त अवसर पर समस्त चौकी इंचार्ज सहित क्षेत्र के जरनल सिंह,दुर्गा चौरसिया,एजाज खान,इसरार खान,जावेद,सद्दीक,ताहिर,रामइकबाल,सुनील भारती, अशरफ रजा,विजय यादव,लक्ष्मीकांत उपाध्याय, मैनुद्दीन खान,शिवानंद उपाध्याय आदि लोग मौजूद रहे।


Khabre Aaj Bhi

Reporter - Khabre Aaj Bhi

आगे से कैश संकट उत्पन्न न हो इसके लिए क्या आरबीआई को ठोस नीति बनानी चाहिए?