उगा हो सुरुजदेव भिन भिनसरवा,अरघ केर बेरवा...,

By: Khabre Aaj Bhi
Nov 03, 2019
65

उगा हो सुरुजदेव भिन भिनसरवा,अरघ केर बेरवा...,

उगते सूर्य को अर्घ्य के साथ  संपन्न हुआ छठ महापर्व


by: नवनीत मिश्र,

संत कबीर नगर:  मगहर  सहित पूरे जिले में रविवार की भोर से ही नदी तटों, तालाबों, पोखरा व घरों की छतों पर लाखों व्रतियों द्वारा उदित होते भगवान भास्कर सूर्य को अर्घ्य   जन आस्था और सूर्योपासना के महापर्व छठ का चार दिवसीय अनुष्ठान रविवार की भोर से प्रात:कालीन अर्घ्‍य देकर भगवान भास्‍कर सूर्य की आराधना का महापर्व सम्पन्न हो गया।                                                                                      इरान वातावरण पारंपरिक छठ गीतों से भक्तिमय था-

 "पहिले पहिल, छठी मईया...              जल्दी उगी आज आदित गोसाई...       मारबउ रे सुगवा धनुष से..                 कांच की बांस के बहंगिया बहंगी लचकत जाए...                                                                                                  होख न सुरुज देव सहइया... 

 बहघाट पहुंचाए... "